यौन स्वास्थय स्वास्थ्य सलाह

शतावरी के अद्भुत फायदे पुरुषों में सेक्स क्षमता को बढ़ाता है|

शतावरी एक औषधि पौधा है, जो सदियों से एक औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। वैसे तो शतावरी के बहुत ही अधिक फायदे हैं। इसको महिलायें और पुरुष दोनों इस्तेमाल कर सकते हैं। 

शतवारी कई प्रकार के रोगों को ठीक करने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन आज बात करेंगे की शतावरी के फायदे पुरुषों के लिए क्या है ?

शतावरी के फायदे पुरुषों के लिए

ऐसा आप अक्सर सुनते होंगे की शतवारी के इस्तेमाल से पुरुषों में प्रजनन और सेक्स की क्षमता बढ़ती है। इस पोस्ट में हम इसी बात पर चर्चा करेंगे। 

शतवारी चूर्ण के इस्तेमाल से पुरुषों का हार्मोन संतुलित रहता है। इसके अलावा ऐसा माना जाता है की शतावरी चूर्ण के अंदर शतावरी चूर्ण में यौन उत्‍तेजक और यौन क्षमता बढ़ाने का गुण होता है। 

पुरुषों के लिए शतावरी चूर्ण के इस्तेमाल वीर्य बढ़ाने, मधुमेह को रोकने, हृदय को स्‍वस्‍थ रखने, तनाव को कम करने आदि में किया जाता है। 

लेकिन कई लोग शतावरी का सही तरीके से इस्तेमाल करना नहीं जानते हैं। तो इस पोस्ट जानेंगे की की शतावरी के फायदे और नुकसान क्या है। इसका किस तरह से इस्तेमाल करें की पुरुषों को शतवारी के इस्तेमाल से अधिक फायदा मिले। तो चलिए शतावरी के फायदे पुरुषों के लिए जानते हैं।

पढे : ब्रेस्ट बढ़ाने की दवा पतंजलि | सुडोल स्तन पाने के असरदार तरीके

शतावरी कहाँ से खरीदें?

शतवारी के जड़ों को औषधि के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। लेकिन इसका पौधा हर जगह नहीं मिल पाता है। लेकिन बहुत सी आयुर्वेदिक कॉम्पनियाँ शतवारी चूर्ण को बेचती है। पतंजलि शतावरी चूर्ण और शतवारी टेबलेट आपको अनलाइन और कई दवाईयों की दुकान पर मिल जाएगा। आप नीचे दिए गए लिंक को क्लिक करके भी शतवारी चूर्ण खरीद सकते हैं।

ServiceMain Features
1
BadgePatanjali शतवार चूर्ण

Patanjali शतवार चूर्ण

  • मूल्य ₹122.00
अभी खरीदें
2
Patanjali अश्वगंधा चूर्ना, 100gm

Patanjali अश्वगंधा चूर्ना, 100gm

  • मूल्य ₹64.00
अभी खरीदे
3
केरल आयुर्वेद अश्वगांधी लह्याम - 500 g

केरल आयुर्वेद अश्वगांधी लह्याम – 500 g

अभी खरीदें

 शतावरी चूर्ण क्या है?

शतावरी एक जड़ी बूटी औषधि पौधा है, जिसके जड़ों का इस्तेमाल औषधि के रूप में किया जाता है। इस जड़ी बूटी की कई प्रजातियाँ होने की वजह से इसको कई नामों से जाना है। जैसे की रेसमोसस, तावरी, सतावर आदि।

शतावरी का पौधा तीन रंगों में पाया जाता है, जिनमे सफ़ेद, हरा और बैगनी शामिल है। आयुर्वेद के अनुसार शतावरी एक स्वस्थ पोषक तत्व समृद्ध वनस्पति है जिसमें वसा और कोलेस्ट्रॉल सामग्री नहीं होती है।

शतावरी में विटामिन ए, सी, ई, के, बी 6, फोलेट, लोहा, तांबे, कैल्शियम, प्रोटीन, और फाइबर जैसे विटामिन और खनिज पाए जाते हैं। हालांकि यह पौधा हर जगह मौजूद नहीं होता है, और इसके जड़ों को सुखाकर पाउडर बनाना थोड़ा कठिन है।

इसके लिए आयुर्वेदिक कॉम्पनियाँ शतावरी का चूर्ण बनाकर ग्राहकों को उपलब्ध करती है, जिसे आप लंबे समय तक इस्तेमाल कर सकते हैं। शतवारी का चूर्ण के साथ-साथ इसके टेबलेट भी बाजार में उपलब्ध है।

शतावरी का उपयोग बहुत से स्वास्थ्य संबंधित समस्या को ठीक करने के लिए किया जाता है। तो आइए आगे शतावरी के फायदों के बारे में और जानें। 

पढे: शुक्राणु बढ़ाने की दवा पतंजलि | सेक्स पावर कैप्सूल से बढ़ाएं कामेक्षा

शतावरी के फायदे पुरुषों के लिए

शतावरी परूषों के लिए बहुत ही फायदेमंद है। इसके सही इस्तेमाल से पुरुषों को बहुत अधिक लाभ मिलता है।

शतावरी के फायदे पुरुषों के लिए
  • शतावरी के इस्तेमाल सदियों से पुरुषों की यौन-शक्ति को बढ़ाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है। शतावरी के इस्तेमाल से पुरुषों की शारीरिक क्षमता मे वृद्धि होती है। जिससे उनके यौन संबंधी जीवन पर बहुत सकारात्मक प्रभाव पड़ता है।
  • शतवारी का इस्तेमाल से पुरुषों के अंदर नपुंसकता की कमी को दूर करता है। और पुरुषों की शारीरिक उत्तेजना को बढ़ाता है।इसके अलावा यौन स्वास्थ और स्टेमिन को भी बढ़ाता है। जिससे की पुरुष अपने सेक्स जीवन का आनंद उठा सके।
  • शतावरी का उपयोग पुरुषों में स्वप्न दोष को भी कम करता है। जिससे पुरुष स्वप्न दोष से मुक्त हो जाते है।
  • शतवारी का इस्तेमाल करने से पुरुषों के यौन अंगों को मजबूत भी मजबूज रहते हैं, और पुरुषों के प्रजनन क्षमता को भी बढ़ाती है। जिससे पुरुषों में यौन ऊर्जा भी बढ़ती है।
  • शतावरी स्वाभाविक रूप से कामेच्छा में सुधार, जीवन शक्ति और पुरुषों द्वारा अनुभव की गई कामुक संवेदना को बढ़ाने के लिए काम करती है। पुरुषों में बढ़ती उत्तेजना के अलावा, शतावरी को शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने के लिए भी मददगार  है जो प्रजनन प्रयासों में सहायता कर सकता है।
  • शतावरी के प्रयोग से शरीर में बढ़ती उम्र के प्रभावों को भी कम करता है।
  • शतावरी के इस्तेमाल से शरीर में मोटापा में कमी आती है। शतावरी के अंदर घुलनशील और अघुलनशील फाईबर तत्वों की मात्रा पाई जाती है। जो शरीर में वसा की परत को कम करता है।
  • शतावरी के नियमित रूप से इस्तेमाल से कैंसर जैसे घातक बीमारी से भी छुटकारा मिलता है।
  • शतावरी के अंदर अमीनो एसिड की मात्रा पाई जाती है जो, शराब से होने वाले प्रभावों को कम करता है।
  • शतावरी मधुमेह जैसी समस्याओं से छुटकारा पाने में भी मदद करता है।
  • शतावरी में विटामिन A और मूत्रावर्धक गुण पाए जाते हैं, जो यूरिन संबंधी संक्रमण से बचाता है।

पढ़ें: सेक्स के दौरान वीर्य कम निकलने का कारण क्या है? जानिये वजह|

 शतावरी के नुक्सान पुरुषों के लिए 

हालांकि शतावरी एक जड़ी बूटी है। इसके अंदर औषधि गुण हैं, जो कई प्रकार के रोगों से बचाता है। लेकिन इसके लंबे इस्तेमाल से कुछ नुकसान भी हो सकते है।

  • शतावरी के लंबे इस्तेमाल से यह शरीर को नुकसान पहुँचा सकता है। इसलिए इसका अधिक इस्तेमाल ना करें।
  • शतावरी के चूर्ण से कुछ लोगों को एलर्जी होती है, इसलिए जिससे इससे  एलर्जी है वो इसका सेवन ना करें।
  • शतावरी में फाइटोएस्‍ट्रोजेन की उच्‍च मात्रा होती है जिसके कारण यह हार्मोन संवेदनशील स्थितियो, जैसे स्‍तन कैंसर, एंडोमेट्रियोसिस आदि का कारण बन सकता है।
  • यदि आप किसी प्रकार की दवाओं का सेवन कर रहे हैं तो शतावरी चूर्ण का सेवन करने से पहले अपने डॉक्‍टर से संपर्क करना चाहिए।

शतावरी का सेवन करने का तरीका 

बहुत से लोगों को शतावरी चूर्ण का सही इस्तेमाल नहीं पाता है। जिससे उनके मन में सवाल आता होगा की इस चूर्ण का किस तरीके से इस्तेमाल करें की, जिससे अधिक फायदा हो। तो चलिए जानते हैं की शतावरी का सेवन किस तरीके से किया जा सकता है।

  • शतावरी चूर्ण का सेवन भोजन के बाद करना चाहिए। इसके साथ ही शतावरी चूर्ण का सेवन करने के दौरान इस बात का ध्‍यान रखें कि खाली पेट इसका सेवन न करें। आप सुबह के नाश्‍ते के बाद गर्म दूध के साथ शतावरी चूर्ण का सेवन कर सकते हैं।
  • शतावरी चूर्ण का सेवन एक दिन केवल 2 ही चम्मच करना चाहिए। और हमेशा खाने के बाद ही यह चूर्ण लें।
  • आप शतावरी का सेवन सोने से पहले करें तो आपको अधिक फायदा होगा। इसीलिए शतावरी चूर्ण को रात में सोने से पहले गरम दूध में डालकर इस्तेमाल करें।
  • यदि आप पहले से कोई दवा ले रहे हैं तो आप शतावरी चूर्ण के सेवन से पहले अपने डॉक्टर को जरूर संपर्क करें।
  • शतावरी चूर्ण के इस्तेमाल से यदि आपको कोई समस्या दिखे तो आपको तुरंत इसके इस्तेमाल को बंद कर देना चाहिए।

सम्बंधित सवाल

शतावरी को कैसे खाना चाहिए? 

शतावरी को हमेशा खाना खाने के बाद ही खाना चाहिए। खाली पेट कभी सेवन नहीं करना चाहिए। सुबह नाश्ते के बाद शतावरी का दो चम्मच चूर्ण गरम दूध में डालकर पियें। शतावरी चूर्ण सेवन आप रात में भी कर सकते है। रात को सोने से पहले गरम पानी के साथ दो चम्मच लेकर सो सकते हैं। इससे पुरुषों को काफी अधिक फायदा होगा।

शतावरी कितने दिन तक खाना चाहिए?

शतावरी को 2, 3 महीने से अधिक सेवन नहीं करना चाहिए। प्रतिदिन 2,3 महीने सेवन के बाद आप इसके इस्तेमाल को कुछ समय के लिए बंद कर दें। यदि आप किसी बीमारी को दूर करने के लिए शतावरी के चूर्ण का इस्तेमाल कर रहे तो आपको यह कितने दिन तक खाना है, यह आपको अपने डॉक्टर से जरूर पूछ लेना चाहिए।

 शतावरी के गुण क्या क्या है? 

शतावरी के अंदर पुरुषों के सेक्स की क्षमता को बढ़ाने का गुण होता है। इसके अलावा शतावरी के इस्तेमाल से पुरुषों की प्रजनन क्षमता में भी वृद्धि होती है। यह कैंसर, लिवर , मोटापा और मधुमेह जैसी समस्याओं को दूर करता है। यही नहीं शतावरी का इस्तेमाल दर्द कम करने, महिलाओं में स्तन्य (दूध) की मात्रा बढ़ाने, मूत्र विसर्जनं के समय होने वाली जलन को कम करने और कामोत्तेजक के रूप में किया जाता है। यह पाचन तंत्र की बीमारियों के इलाज, ट्यूमर, गले के संक्रमण, ब्रोंकाइटिस और कमजोरी में फायदेमंद होती है।

शतावर चूर्ण खाने से क्या होता है?

शतावरी का चूर्ण खाने से कई सारी बीमारियों में राहत मिलती है। इसके सेवन से शरीर में होने वाली सूजन में कमी आती है। इसके अलावा मूत्र विसर्जनं के समय होने वाली जलन को कम करने और कामोत्तेजक के रूप में किया जाता है। शतावरी चूर्ण में मौजूद फाईबर शरीर के अतिरिक्त वसा को कम करता है।

निष्कर्ष 

शतावरी के अंदर काफी सारे औषधि गुण होता है, और आयुर्वेद में इसका इस्तेमाल सदियों से किया जाता है। लेकिन यदि आप इसका सही तरीके से इस्तेमाल नहीं करते हैं तो शतावरी के फायदे के की जगह इससे शरीर को नुकसान हो सकता है।

इसलिए इस पोस्ट के माध्यम से मैंने आपको बताया है की, शतावरी के फायदे पुरुषों के लिए क्या है, और शतावरी का पुरुष किस प्रकार इस्तेमाल करेंगे, जिससे की अधिक फायदा हो सके हैं।

उम्मीद है की आपके लिए यह पोस्ट काफी मददगार साबित होगा है, जिससे आप शतावर का सही तरीके से इस्तेमाल करेंगे और इसका लाभ उठा सकेंगे।

यदि आपको इससे संबंधित कोई सवाल पूछना हो तो आप मुझे कमेन्ट करके पूछ सकते हैं। मैंने ऊपर कुछ उत्पाद भी दिए हैं जिसे आप खरीद कर इस्तेमाल कर सकते हैं। शतावरी चूर्ण संबंधित यदि आपके पास कोई सुझाव हो तो आप मुझे जरूर बताएं।

Leave a Comment