पिगमेंटेशन क्रीम पतंजलि से झाइयों से मुक्ति।क्या कहते हैं विशेषज्ञ?

हर कोई सुंदर स्किन की चाह रखता है , परंतु काफी सारे स्किन से संबंधित परेशानियों का सामना करना पड़ता है। जिससे स्किन अच्छी नहीं दिखती है ,ऐसे ही एक स्किन से संबंधित परेशानी के बारे में हम आज बात करेंगे और जानेंगे के क्या पिगमेंटेशन क्रीम पतंजलि सच में असरदार है?

यह स्किन प्रॉब्लम वैसे तो आपको कोई नुकसान नहीं करेगी। लेकिन इससे आपके चेहरे की रौनक कम होने लगेगी। यह चेहरे पर निशान छोड़ता है ,जो आपको बहुत चिंतित कर देते है। यह प्रॉब्लम स्किन पिगमेंटेशन है जिसे आम भाषा में झाइयों भी कहते है। यह त्वचा पर ऐसे निशान छोड़ देता है जैसे की स्किन जली हुई हो और  फिर जिससे चेहरा अजीब दिखता है।

Skin Pigmentation and other problems

यह प्रॉब्लम शरीर से जुड़ी होती है और यह एक तरह से स्किन संबंधित बीमारी भी मानी जाती है ।इसकी वजह से लोग अपना आत्मिश्वास भी खोने लगते है ,क्यों कि यह भी है कि यह जल्दी ठीक नहीं होता है इसके ठीक होने के लिए समय लगता है ,पर अगर आप डॉक्टर से इस चीज के विषय में सलाह ले तो वो आपको अच्छा इलाज बताएं।

ऐसी ही एक समस्या है एक्ने जिनके अनेक कारण है। इसमें भी डॉक्टर की सलाह क बिना कोई क्रीम या दवा का इस्तेमाल करने का मतलब है के यह जड़ से नहीं ख़तम होगा। इसके विपरीत, हो सकता है क समस्या और बढ़ जाए।

साथ ही हम आपको इसका समाधान बताएंगे  जिससे आपको ,इस समस्या से   निकलने में मदद करेगा । साथ ही हम आपको एक आयुर्वेदिक क्रीम के बारे में भी बताएंगे जो पूरी तरह से आयुर्वेदिक और प्राकृतिक चीजों से बना है। यह क्रीम आपके चेहरे से पिगमेंटेशन को हटाता है। यह पतंजलि द्वारा निर्मित है, यह क्रीम आपको स्किन प्रॉब्लम के सारे परेशानी से दूर कर देगा ।तो चलिए हम आपको इसके बारे में और चीजे बताते है ।

पिगमेंटेशन क्या होता है?

पिगमेंटेशन चेहरे पर पड़ने वाले  धब्बे होते है ,जो  धीरे धीरे चेहरे की त्वचा पर जगह जगह पर डार्क काले दाग  होने से होता है । चेहरे पर ऐसा दिखने लगता है कि स्किन जगह जगह काली हो रही है।

इसे हाइपरपिगमेंटेशन भी  कहते है ,जो जगह जगह काले निशान छोड़ देते है ।यह किसी के चेहरे पर छोटे होते है , तो  किसी के चेहरे पर बड़े पर इस से  किसी भी प्रकार की कोई परेशानी नहीं होती है ,न ही आपको इससे कोई नुकसान ।


रंजकता / पिगमेंटेशन के कारन क्या है?

Pigmentation of skin

तेज धूप में निकलने से यह होता है ,क्यों कि जब हम धूप में जाते है ,तो स्किन में मेलेनिन का ज्यादा उत्पादन होने लगता है ,जिससे स्किन में डार्क स्पॉट या पेचिश होने लगते है ।

स्किन में जलन -स्किन में कई समस्याएं भी होती है ,जिससे यह परेशानी होती है  जैसे, सोरायसिस (Psoriasis), एक्जिमा (Eczema), इंजरी  आदि जिसके बाद  स्किन का रंग गहरा काला पड़ जाता है। गहरे रंग वाले लोगों में स्किन समस्याओं के बाद होने वाला हाइपरपिग्मेंटेशन ज्यादा होता है।

दवाइयों  के रिएक्शन से भी यह समस्या होती है , बहुत सी  दवाओं जैसे, एंटी मलेरिया ड्रग और ट्राईसाइक्लिक एंटीडिप्रेसेंट्स के सेवन के कारण हाइपरपिग्मेंटेशन या झाइयों की समस्या होने लगती  है। ऐसी स्थिति में स्किन के पैच कई बार भूरे रंग के  होने लगते है । कई बार स्किन पर लगाने वाली दवाओं में मिले केमिकल का रिएक्शन होने पर भी झाइयों की समस्या हो सकती है।


डॉक्टर क्या सलाह देते हैं?

डॉक्टर का मानना है कि यह कोई बड़ी परेशानी नहीं है ,जिससे आपको घबराने की जरूरत है ,यह स्किन प्रॉब्लम ठीक भी की जा सकती है ।डॉक्टर यह  सलाह  देते है , कि इस पिगमेंटेशन से बचाव करके भी आप इसे कम कर सकते है ।


पिगमेंटेशन के प्रकार

 यह दो प्रकार के होते है –

  • हाइपर पिगमेंटेशन –  यह त्वचा का रंग पहले से ज़्यादा गहरा कर देता है ।जब स्किन पर मुंहासे और झाइयां होते है, और उनके दाग पड़  जाते है ,जिसे हाइपरपिगमेंटेशन कहते है ।यह ज़्यादा तर गाल और सिर पर देखे जाते है ।
  • हाइपो पिगमेंटेशन – इसमें स्किन का रंग पहले से हल्का हो जाता है ,जिसकी वजह से चेहरे पर जगह जगह स्किन का रंग हल्का होता जाता है ।और इस तरह का बच्चो के चेहरे पर भी हो जाता है ,जिसे पेंच कहा जाता है । यह प्रॉब्लम पेट में आहार में पोषक तत्व की कमी  की वजह से भी  होता है।

पिगमेंटेशन के उपचार

Skin treatment get rid of pigmentation

इसे काफी सारे तरीके है जिससे आप इसे ठीक कर सकते है ,जिसमें से कुछ उपचार वो है जो पिगमेंटेशन को जल्दी ठीक करते है ।जैसे

  • स्किन लाइटनिंग क्रीम

हाइड्रोक्विनोन एक ऐसी क्रीम है, यह ऐसी क्रीम है जो त्वचा में मौजूद पिगमेंट सेल्स  को टूटने से बचाती है और मेलानिन बनाने में मदद करती है l  इससे कई बार त्वचा में खुजली हो सकती है l इसके इस्तेमाल के समय आपको  सनब्लॉक क्रीम का इस्तेमाल ज़रूर करना  चाहिये l इसके अतिरिक्त कई ब्यूटी प्रोडक्ट्स भी स्किन लाइटनिंग क्रीम बनती हैं, जो आप इस्तेमाल कर सकते है ।

  • केमिकल पील्स

इस ट्रीटमेंट में केमिकल को त्वचा पर लगाया जाता है जिससे त्वचा की ऊपरी परत निकल जाती है l केमिकल पील को किसी अनुभवी चर्म रोग विशेषज्ञ की निगरानी में ही कराना चाहिए l नौसिखिए से केमिकल पील करना सुरक्षित नहीं है l कई बार इसमें त्वचा बहुत ज्यादा सफेद हो जाती है l ऐसे में विटिलिगो हो सकता हैl

  • माइक्रोनीडलिंग

इस प्रक्रिया में क्रीम की सहायता से नीडल को त्वचा में भीतर तक घुसाया जाता हैl इससे कोलेजन और इलास्टिन की मात्रा को बढ़ाया जाता है l इस से कभी कभार उस जगह पर, दर्द के साथ सूजन, दाने और इन्फेक्शन हो सकता हैl

  • लेजर थेरेपी

कुछ ख़ास तरह के लेजर थेरेपी में चिकित्सक प्रक्रिया द्वारा मेलानोसाइटिस नामक कोशिकाओं के उत्पादन में बढ़ावा देता हैl इसे आपको किसी प्रतिष्ठित हॉस्पिटल   से ही कराना चाहिए lलेज़र थेरेपी  के बाद चेहरे पर  सूजन, दर्द और अकड़न रह सकती है। वैसे तो  यह जल्द ही ठीक हो जाती है और साथ ही  सर्जरी के बाद स्किन ढीली लगने लगती है ।

  • स्किन कैमफ्लाश़

यह एक थिक और कलर्ड क्रीम है l यह मेलास्मा को छुपाने का काम करता है और आपकी त्वचा की लाइफ को बढ़ाता है इससे चेहरे पर खुजली, एलर्जी,चेहरे पर जगह जगह रेडनेस और साथ ही स्किन के पोर्स को बंद हो जाते है ।स्किन का पीएच लेवल भी बिगड़ने लगता है, जिससे स्किन को नुकसान होता है ।


पिगमेंटेशन क्रीम पतंजलि- PATANJALI SAUNDARYA ANTI AGING CREAM 15 GM

PATANJALI SAUNDARYA ANTI AGING CREAM

Patanjali_anti_aging_cream

पिगमेंटेशन क्रीम पतंजलि

  •  यह प्रोडक्ट पूरी तरह से आयुर्वेदिक है ,जो आपकी स्किन को कोई हानि नहीं करेगा।
  • यह क्रीम आपको पतंजलि के स्टोर व ऑनलाइन साइट पर आराम से मिल जाएगी ।
  • मूल्य ₹700
  • क्वांटिटी 50 ग्राम

यह क्रीम चेहरे को सुंदर बनाता है ,साथ ही स्किन प्रॉब्लम से भी छुटकारा देता है ।यह क्रीम पूरी तरह से आयुर्वेदिक है जो स्किन को काफी लाभ देती है ।यह प्रोडक्ट  भारत में ही निर्मित है ।

Clear skin- Get rid of pigmented skin

इनग्रीडियेन्त्स

  • एलोवेरा (Aloe barbadensis)

एलोवेरा चेहरे के लिए बहुत अच्छा होता है ,एलोवेरा को जेल के रूप में इस्तेमाल किया जाता है और साथ ही इसे कॉस्मेटिक प्रोडक्ट में इस्तेमाल किया जाता है , क्यों कि यह चेहरे के मुंहासे झाइयों,और रिंकल्स को हटाता है ।इसके अंदर अमीनो एसिड होता है जो त्वचा के सेल्स को टाइट करता है और स्किन को पहले से बेहतर करता है ।यह एक तरह से मॉइश्चराइजर का भी काम करता है ,जो चेहरे पर नमी बनाए रखता है ।और साथ ही स्किन को ड्राइनेस की प्रॉब्लम को भी खत्म करता है इस के इस्तेमाल से स्किन की सारी समस्या दूर हो जाती है ।  इसलिए इसका प्रयोग इस क्रीम में किया गया है ।

  • वीट जर्म आयल (Triticum sativum)

यह गेहूं का तेल होता है ,जिसमें काफी सारे पोषक तत्व होते है ,जो तत्व के लिए बहुत अच्छे होते है ,इस तेल में एंटी  इन्फामेटरी गुण होते हैं।जो स्किन को रेडनेस और जलन कम करता है।यह स्किन की झुर्रियां झाइयों को कम करता है ।इसके इस्तेमाल से स्किन ठीक होने लगती है और डार्क स्पॉट को हटाने में भी मदद करती है ।

  • जोजोबा आयल  (Simmondsia chinensis)

यह मुंहासे कम करता है ,इससे दाग धब्बे को कम और झाइयों को कम करता है ।यह स्किन के सेल को चारो ओर से सुरक्षा कवच बनाकर स्किन को ठीक करता है ।जिससे स्किन में नमी रहती है ।

  • अवोकेडो आयल  (Persea americana)

यह एक तरह से नेचुरली आपकी स्किन को सॉफ्ट और नमी रखने में मदद करता है ।स्किन डैमेज भी स्किन को बचाता है ।

  • चिरोंजी आयल (Buchanania latifolia)

यह स्किन को चमकदार और सुंदर बनाता है ,इससे आपकी स्किन रियल स्किन आने लगती है और साथ निखारने भी लगती है ।

  • पापाया आयल (Carica papaya)

पपाया में ए से भरपूर होता है ,यह स्किन को फेयरनेस करने में मदद करता है और साथ ही पिगमेंटेशन को कम करता है और मोस्ट्राइजर का काम करता है ।

  • केला (Musa sapientum)

इसमें भरपूर मात्रा में पोषक तत्व होते है ,जो स्किन लिए अच्छे होते है ,यह काफी सारी स्किन प्रॉब्लम को ठीक करता है और स्किन को चमकदार और यंग बनाता है ।साथ ही ड्राई स्किन में नमी का काम करता है ,इसमें एंटी इन्फ्लेमेटरी भी होता है ।

  • मसूर दाल (Lens culinaris)

यह एक घरेलू इंग्रेडिएंट्स है ,जो हर घर में होता ही है ।और इसके फायदे जितने सेहत के लिए अच्छे होते है उतने ही चेहरे  लिए भी होते है ।यह झुर्रियां, झाई ,दाग धब्बे आदि ठीक करता है ।यह एंटी  एजिंग क्रीम की तरह काम करता है और स्किन को ब्राइट करता है ,साथ ही सन टैन से भी बचाता है ।

  • हल्दी एक्सट्रेक्ट (Curcuma longa)

यह एक्ने को हटाता है ,साथ ही स्किन को गोरा भी करता है ,यह स्किन को रिपेयर भी करता है ,इसमें भरपूर एंटी इन्फ्लामेट्री होता है ।और स्किन को ग्लो करने में मदद करता है । 

  • रेवन्द चीनी (Rheum emodi)

यह पिंपल्स ,एक्ने और स्किन के काफी सारे प्रॉब्लम को ठीक करता है ,यह एक पौधा होता है, जिसकी जड़ को सुखाकर फिर इसका पाउडर बनाया जाता है और फिर क्रीम में इस्तेमाल किया जाता है ।

  • विटामिन इ

इसमें एंटी ए इंफ्लेमेटरी गुण होता है। जो त्वचा पर UV रे से हुए नुकसान को कम करता है। यह स्किन को मुलायम भी करता है और साथ ही स्किन को साफ भी करना है ।


पतंजलि सौंदर्य एंटी एजिंग क्रीम- रिव्यूज़

सौंदर्य एंटी एजिंग क्रीम का शक्तिशाली सक्रिय झुर्रियों को दूर रखता है और आपकी त्वचा में प्राकृतिक चमक आने लगती  है, जिससे स्किन  चमकदार और अधिक यंग दिखने  लगती  है। नेचुरल ऑयल, पेप्टाइड, हर्बल और फ्रूट एक्सट्रैक्ट से भरपूर, क्रीम त्वचा पर मुलायम करती  है। 

यह आपकी स्किन को  कठोर न करने त्वचा अच्छा करता करता है  जिससे आपको किसी भी प्रकार का रूखापन नहीं लगेगा, क्योंकि क्रीम  झुर्रियों को कम करती है और  पर्यावरण से हुए चेहरे  को बेअसर करती है इसमें। चिरौंजी, जोजोबा और एवोकैडो ऑयल है जो  आपकी त्वचा को पोषण देने के लिए  और इसका डेली रूप से इसका इस्तेमाल करें, जिससे आपको अच्छा असर मिलेगा ।


इस क्रीम की विशेषताएं

  • कॉम्प्लेक्शन सुधारता है
  • सिकुड़न को स्मूथ करता है
  • उम्र बढ़ने और सूरज से खराब त्वचा को मॉइस्चराइज और हाइड्रेट करता है
  • पर्यावरण क्षति को बेअसर करता है
  • बारीक लाइनों को कम करता है

वैकल्पिक दवाइया

  • Patanjali Anti-Wrinkle Cream

    Patanjali_Anti_wrinkle_cream
    • Skin Type- Combination skin
    • 50gm at ₹150
    • रिंकल्स घटाए
    • ब्लैकहेड्स साफ़ करे
    • स्वस्थ त्वचा
  • The Derma Kojic Acid Face Cream

    Derma_Kojik_Acid_Face_Cream
    • Skin Type- Combination skin
    • 30gm at ₹499
    • Get FLAT 15% Off | Use Code SPECIAL15

पिगमेंटेशन सही करने के घरेलू उपाय

आलू से भी  झाइयों(पिगमेंटेशन) का इलाज-आलू स्किन के लिए काफी लाभदायक होता है ।

आलू में एंटी-पिगमेंटेशन गुण होते हैं l यह एक प्राकृतिक उत्पाद है जो एक तरह से  ब्लीच का काम करता  है l इसे डेली  लगाने से पिगमेंटेशन कम हो जाता है l

इसे आप किस तरह से इस्तेमाल करें:-

  • आलू को पानी से  अच्छे से साफ कर ले।
  • फिर आलू को दो टुकड़ों में काट लें और पिगमेंटेशन वाली जगह पर घिसें l

और या तो आप  आलू को पीसकर उसका रस भी चेहरे पर लगा सकते हैं l दोनों ही तरह से यह आपकी त्वचा में निखार लाएगा।और अगर आपकी  त्वचा रूखी है, तो  इसमें दो बूंद शहद या फिर गुलाब जल  को  डाल सकते हैं।


किस्से परहेज़ करें?

  • ज़्यादा  तेल  और मिर्च-मसाले वाले  भोजन का सेवन ना करें।
  • जंक फूड एवं प्रिजरवेटिव वाले  आहार का उपयोग कम करें ।
  • बासी भोजन एवं गंदा  पानी ना पिएं पानी को फिल्टर ज़रूर कर ले।अधिक मात्रा में चाय, कॉफी आदि को ना पिए ।
  • सिगरेट या शराब आदि नशीले पदार्थों का सेवन ना करे ,यह शरीर के लिए हानिकारक तो है ही साथ ही स्किन के लिए भी ।

पिग्मेंटशन और झाइंयों में क्या कोई अंतर है?

दोनों में किसी भी प्रकार का कोई अंतर नहीं है दोनों ही समान है ,बस इसे मेडिकल की भाषा में पिगमेंटेशन कहते है ।जो स्किन में पैचस निकलते है जिससे स्किन के आस पास की जगह गहरे रंग की होने लगती है ।


पिगमेंटेशन क्रीम पतंजलि के फयदे एवं नुक़सान

फायदे

  • यह त्वचा को  स्मूथ ब्लेमिश फ्री त्वचा रखता है ।
  • झुर्रियां, और चेहरे के  चमक के लिए उपयोगी है,यह स्किन में एक नई जान डाल देता है ,साथ ही यह क्रीम स्किन को नमी भी देता है ।
  • यह चेहरे के पिगमेंटेशन (झाइयों )को ठीक करता है ।
  • यह क्रीम साथ ही पिंपल्स और एक्ने प्रोन को भी ठीक करता है ।
  • इसके रेगुलर इस्तेमाल से आपको अपनी स्किन में निखार दिखेगा।
  • इस क्रीम में सारे इंग्रेडिएंट्स प्राकृतिक है ,जो आपकी स्किन को कोई नुकसान नहीं करेगा।

नुकसान

  • वैसे इस क्रीम से किसी प्रकार का नुकसान तो नहीं है ,पर अगर आपकी स्किन सेंसिटिव है ,तो आप इस क्रीम को इस्तेमाल करने से पहले डॉक्टर से सलाह ले ।और वैसे यह हर स्किन पर सूटेबल क्रीम है ।
  • यह स्किन को थोड़ा पीला कर देती है ,पर यह कुछ समय के लिए ही रहता है और इससे किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं है ।

आखरी शब्द

हाइपरपिग्मेंटेशन असल में गंभीर नुकसान न पहुंचाने वाली स्किन की समस्या है।

स्किन में होने वाली कोई भी समस्या आसानी से ठीक नहीं होती है। स्किन समस्याओं को ठीक होने में आमतौर पर लंबा वक्त लग जाता है। इसलिए, समस्या की शुरुआत होते ही जितनी जल्दी हो सके उस पर ध्यान रखें और इसका इलाज करे।

अगर कोई शख्स कॉस्मेटिक कारणों या सुंदर दिखने के लिए हाइपरपिग्मेंटेशन का उपचार करवाना चाहता है तो उसे डर्मेटोलॉजिस्ट से सलाह लेनी चाहिए। और साथ ही चेहरे के लिए आयुर्वेदिक चीजों का ही इस्तेमाल करना चाहिए ।दिव्य कांति लेप भी आपकी झाई को ठीक करता है साथ ही काफी सारी स्किन प्रॉब्लम को भी ।तो इस प्रोडक्ट का इस्तेमाल भी ज़रूर करे ।क्यों कि इसके इस्तेमाल से वैसे कोई परेशानी भी नहीं होती है ।और काफी लोग भी इस क्रीम का प्रयोग कर अपनी स्किन को भी ठीक किया है ।तो आप भी एक बार जरूर इस्तेमाल करें।

Leave a Comment