Site icon skincaremedication

पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल के फायदे और इस्तेमाल के 5 उपाय

पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल के फायदे

पतंजलि अश्वगंधा आयुर्वेदिक जड़ी बूटी से निर्मित एक कैप्सूल है ,जिससे   बहुत सी बीमारियों  को  ठीक करने के लिए उपयोग किया जाता है। हालांकि इसके कई फायदे हैं पर इस दवा को सही तरीके से नहीं लिया  गया तो यह आप पर दुष्प्रभाव उत्पन्न कर सकता है ।  

तो आज हम आपको पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल के फायदे और नुकसान दोनों ही बताएंगे । लेकिन लेकिन पहले हम आपको पतंजलि और अश्वगंधा के बारे थोड़ा बताना चाहेंगे ।

आप सभी ने ही पतंजलि ब्रांड का नाम तो सुना ही है,जो मार्केट में आयुर्वेदिक चीजों के लिए जाना जाता है। जिसके सभी प्रोडक्ट भारत में निर्मित होते है और पूरी तरह से आयुर्वेदिक और प्राकृतिक चीजों से बने होते है। जैसे की पेट में गैस की समस्या को नियंत्रण में लाने के लिए पतंजलि गैस की दवा।

ऐसे ही पतंजलि का एक प्रोडक्ट है ,पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल जो आयुर्वेदिक औषधि  अश्वगंधा से बना है। जो आपको तनाव भरी ज़िन्दगी और शरीर के दुर्बलता को कम करने में मदद करता है, साथ ही शरीर की तमाम बीमारियों का इलाज भी करता है।

परंतु इस दवा के नुकसान भी है, जो आपके शरीर पर दुष्प्रभाव भी डालते है ।

इसके बारे में हम और गहराई से आपको बताएंगे ,जिसके लिए आप इस लेख को पढ़े ,और पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल के बारे में और अच्छे से जान सके।

क्या है अश्वगंधा?

अश्वगंधा एक तरह का पौधा होता है,जिसका प्रयोग भारत में आयुर्वेदिक उपचार में किया जाता है। इसे एक तरह से जड़ी बूटी है जो कई रोगों और इलाज में काम आती है ।इसे अश्वगंधा इसलिए कहा जाता है ,क्यों कि इसमें से घोड़े के पसीने व मूत्र जैसी दुर्गन्ध आती है । 

अश्वगंधा कहाँ पाया जाता है?

भारत में अश्वगंधा की खेती की जाती है। यह ठंडे जगहों को छोड़ कर अन्य सभी जगह पर पाया जाता है ।ज्यादा इसकी खेती मध्य प्रदेश के पश्चिमी भाग में मनासा , जावद आदि और राजस्थान के नागौर जिले में की जाती है ।इसकी खेती की फसल 150 से 170 दिन में पूरी होती है। 

किसको करना चाहिए अश्वगंधा का सेवन? 

पर इन सभी लोगों को अश्वगंधा का सेवन करने से पहले अपने डॉक्टर से सलाह ज़रूर लेनी चाहिए।

किसको करना चाहिए अश्वगंधा से परहेज? 

पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल के फायदे और नुकसान

फायदे

  • अश्वगंधा एक औषधीय जड़ी बूटी है जिससे शरीर के कई फायदे होते है
  • यह चिंता और तनाव को कम कर सकता है,
  • अवसाद से लड़ने में मदद करता है,
  • पुरुषों में प्रजनन क्षमता और टेस्टोस्टेरोन को बढ़ा सकता है
  • यहां तक कि मस्तिष्क की कार्यक्षमता को भी बढ़ाता है। 
  • अश्वगंधा का इस्तेमाल नींद के लिए अच्छा होता है

नुकसान

  • ब्लड प्रेशर से वाले  लोगों को अश्वगंधा डॉक्टर से पूछ करना  लेना चाहिए। और  जिनका बीपी लो रहता है और होता है, उन्हें अश्वगंधा का सेवन नहीं करना चाहिए।
  • अश्वगंधा का अधिक इस्तेमाल करने से  पेट के लिए हानिकारक हो सकता है। इसे लेने से डायरिया की समस्या हो सकती है ।
  • अश्वगंधा के ज्यादा इस्तेमाल से आपको बुखार, थकान, दर्द की शिकायत भी हो सकती है।
  • तो अश्वगंधा का इस्तेमाल डॉक्टर से ही पूछ कर करे और जिन लोगों  यह सब  समस्या है , वह तो इसका सेवन बिलकुल न करे।

पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल

Average Rating – 4.1/5

पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल

  • Brand- PATANJALI
  • Ashwagandha Capsules- pack of 2
  • Treatment- General Wellness
  • Quantity- 40 Capsules
  • Vegetarian
  • Prescription Required- No
  • Price- MRP Rs. 180

पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल आयुर्वेदिक तत्वों का मिश्रण है, जिससे यह कैप्सूल तैयार हुई है ।इस कैप्सूल तनाव, थकान के इलाज के में इस्तेमाल  किया जाता है। जिससे आपको कोई समय भी नहीं होगी। यह इम्यून सिस्टम और शरीर को बल देते में मदद करता है।

इंग्रीडिएंट्स 

इस प्रोडक्ट के सारे इंग्रेडिएंट्स पूरी तरह से आयुर्वेदिक है, जो प्राकृतिक चीजों से बनी है। यह कैप्सूल दो सामग्री से मिलकर बना है ।

Main Ingredients

  • अश्वगंधा घंसत
    यह तत्व अवसाद, चिंता, ल्यूकोडर्मा, अनिद्रा आदि के उपचार में उपयोगी है। साथ ही मांसपेशियों में सुधार लाने में मदद करता है।
  • अश्वगंधा चूर्ण
    Coअश्वगंधा चूर्ण एक तरह का पाउडर होता है ,जो आयुर्वेदिक औषधि है। बाजार में अश्वगंधा चूर्ण अलग अलग ब्रांड के चूर्ण भी उपलब्ध है। एक तरह से यह चमत्कारी औषधि मानी जाती है ,जो शरीर के सारे रोग ठीक करता है। यह शरीर की बीमारी से बचाता है और साथ ही दिमाग और मन को भी स्वस्थ रखता है ।

    अश्वगंधा चूर्ण और अश्वगंधा घनसत  के गुण यह है कि यह तनाव दूर , डायबिटीज की बीमारी भी घटाता  है ,पेट की समस्या को ठीक करता है, पुरुषत्व बढ़ाता है। साथ ही यह आंखों की रोशनी भी बढ़ता है ।यह चूर्ण पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल का मिश्रण है।

पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल के फायदे 

पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल के नुकसान 

शराब और अन्य धूम्रपान  पदार्थों का सेवन करने वालों को अश्वगंधा का सेवन नहीं करना चाहिए इससे उनके नर्वस सिस्टम में समस्या  हो सकती है।

गर्भवती महिलाओं को अश्वगंधा के सेवन  ज्यादा नहीं करना चाहिए क्योंकि इससे   गर्भपात जैसी समस्या हो सकती है।

ProductDetailsPurchase

पतंजलि अश्वगंधा

  • यह इम्यूनिटी को बढ़ाने में मदद करता है ।मसल्स स्ट्रेंथ बढ़ाता है।
  • Price- MRP- RS.180
  • Pack of 2
Add to Cart

हिमालय अश्वगंधा

  • यह शरीर में स्ट्रेंथ ,और इम्यूनिटी को ठीक करता है ,साथ ही शरीर के इंफेक्शन और रोगों से लड़ने में मदद करता है।
  • व्हाइट ब्लड कोशिकाओं(cells) के लेवल को पहले से सही करता है। 
  • Pack of 2
  • Price- MRP Rs.273
Add to Cart

डाबर अश्वगंधा

  • यह स्टैमिना ,और एनर्जी लेवल ठीक रखता है ,शरीर के तनाव और कमजोरी  को कम करता है ।बूढ़े लोगों में इम्यूनिटी और दुर्बलता को भी ठीक करता है ।
  • Pack of 2
  • Price – MRP- RS. Rs.265
Add to Cart

FAQ

अश्वगंधा कितने दिन तक खाना चाहिए?

अश्वगंधा का प्रयोग 4 महीने तक करते है ,तो शरीर की सारी समस्या भी दूर होती है ।

अश्वगंधा कैप्सूल का प्राइस कितना है?

अश्वगंधा कैप्सूल का प्राइस 165 रुपए है ,इसे आप अपने नजदीकी मार्केट के मेडिकल  स्टोर से ले सकते है। साथ ही आप अगर ऑनलाइन खरीदना चाहते है तो यह भी विकल्प उपलब्ध है।

अश्वगंधा की तासीर क्या होती है?

अश्वगंधा शरीर में गर्मी उत्पन्न करता है। इसे अन्य जड़ी बूटियों के साथ मिलाकर लिया जाता है जिससे शरीर में ज़्यादा गर्मी उत्पन्न ना हो। अश्वगंधा से पित्त बढ़ता है और कफ दोष  कम कर देता है।

शरीर में कोई विकार आने के कारण इन तीनो मुख्य दोषों में बदलाव आ सकता है। जैसे, कम पित्त होने के कारण चयापचय कमज़ोर हो जाता है, अपच, शरीर में दूषित पदार्थों का इकठ्ठा होना यह सब समस्या होने लगती है ।तो इसका सेवन किया जाता है।

क्या अश्वगंधा से गठिया का रोग सही होता है?

आर्थराइटिस (गठिया) के इलाज में आयुर्वेद अश्वगंधा उपयोगी है ।  गठिया में एलोपैथिक दवा जीवन भर लेनी होती है तथा उसके साइड इफेक्ट भी होते हैं, लेकिन अश्वगंधा के साइड इफेक्ट नहीं पाये गये है,और  अश्वगंधा गठिये के रोग को ठीक करता है ।

क्या गर्भधारण के समय अश्वगंधा का सेवन करना चाहिए?

अश्वगंधा एक हर्ब्स वाला पौधा   हैं जो स्ट्रेस को कम करने में मदद करता  हैं। यह एड्रिनल सिस्टम (एंडोक्राइन ग्लैंड) को ठीक करने और हॉर्मोन्स के स्तर को संतुलित करने में मदद करता है। 

अश्वगंधा का प्रयोग  महिलाएं अपनी एनर्जी बढ़ाने और बढ़ते बच्चे के विकास को स्थिर करने के लिए आमतौर पर इस्तेमाल करती हैं। पर गर्भावस्था के दौरान इसका सेवन न करना ही बेहतर है क्योंकि इससे अबॉर्शन का खतरा भी रहता  है। पर फिर भी आप इसे लेना चाहती है, तो पहले डॉक्टर से सलाह लें। 

आखरी शब्द 

आप सब  अश्वगंधा के बारे में बहुत सी जानकारी से तो  अवगत हो गए है ।अश्वगंधा आयुर्वेदिक तत्व  जो आपको बहुत से फायदे भी देता है ,यह तो आप लोग जान ही चुके है ,और किस तरह से यह आपको गंभीर बीमारियों का इलाज भी देता है ।तो ऐसे ही पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल है ,जो पूर्ण रूप से आपको फायदा देता है ।

लेकिन अश्वगंधा का प्रयोग भी आप एक बार डॉक्टर से पूछ कर है करें,खासकर वह लोग जिनको कोई बीमारी है ।क्योंकि इसके फायदे के साथ साथ  नुकसान भी है ।तो डॉक्टर से ज़रूर पूछे ।पतंजलि अश्वगंधा कैप्सूल को एक बार जरूर इस्तेमाल करें जिससे आपको इसका फायदा मिलेगा ।

Exit mobile version