बाल

रूखे-बेजान बालों से परेशान हैं तो करें ये उपाय, जल्द होगा फायदा!

मुलायम और सीधे बाल किसे नहीं पसंद है। आजकल के दौर में बालों स्मूथिंग ट्रीटमेंट करवाने का प्रचालन बन गया है। हेयर स्मूथिंग ट्रीटमेंट खासकर महिलाये अधिक करवाती हैं । लेकिन क्या आप जानते हैं की हेयर स्मूथिंग ट्रीटमेंट क्या होता है? हेयर स्मूथिंग ट्रीटमेंट करवाने से बालों पर क्या प्रभाव पड़ता है? यदि नहीं जानते तो इस पोस्ट को पूरा पढ़िये।

hair tritment image

महिलायें बालों को सुंदर दिखने की चाह में हेयर स्मूथिंग ट्रीटमेंट तो करवा लेती हैं। लेकिन उनको ये नहीं पता होता है की इससे बालों को कितना नुकसान पहुँचता है। यह ट्रीटमेंट बालों को सुंदर और मुलायम बनाने के लिए किया जाता है। जिनके बाल रूखे और घुँघराले होते हैं उनके लिए अधिक फायदेमंद होता है ।

इसको करने के लिए कई तरह के केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है। हो सकता है यह केमिकल बालों के लिए हानिकारक साबित हो। इसलिए यह हेयर ट्रीटमेंट कराने से पहले चलिए जान लेते हैं की हेयर स्मूथिंग ट्रीटमेंट क्या होता है? क्या आपको यह ट्रीटमेंट कराना चाहिए।

ये भी पढ़ें: बालों को झड़ना कैसे रोकें।

क्या है हेयर स्मूथिंग ट्रीटमेंट?

हेयर स्मूथिंग ट्रीटमेंट में रूखे और सीधे बालों को मुलायम और सॉफ्ट बनाया जाता है । इस प्रक्रिया में फ्रीजि यानि की कड़े और दोमूहे बालों को हटाया जाता है। इसको हटाने के लिए कई सारे केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है। जिससे बाल प्राकृतिक रूप से सीधे हो जाते हैं।

इस प्रक्रिया के दौरान सबसे पहले बालों को अच्छे शैम्पू से धुला जाता है। इसके बाद बालों के छोटे- छोटे हिस्से करके उसमें फॉर्मलडेहाईड का लेप लगाया जाता है। यह लेप सुखाने के बाद उसको हीटिंग आयरन से सीधा (स्ट्रेट) किया जाता है।

बाद कई तरह की हेयर स्मूथिंग क्रीम भी लगाई जाती हैं। जिससे मुलायम होने के साथ-साथ बाल शाइनी भी हो जाते हैं। बालों में यह ट्रीटमेंट करने में 2,3 घंटे का समय तल जाता है। इसको करने के 2,3 दिन तक बालों को धुलना नहीं चाहिए।

हेयर स्ट्रेट क्रीम price बहुत ही अधिक होता है। और यह ट्रीटमेंट लंबे समय तक रहती भी नहीं है। बालों में इसका असर ज्यादा से ज्यादा साल भर या इससे भी कम समय तक बना रहता है।

हेयर स्मूथिंग ट्रीटमेंट के फायदे 

  • घुँघराले और रूखे बालों को मुलायम बनाता है।
  • इसको कराने से बालों में चमक आते हैं।
  • एक बार कराने के बाद काफी समय तक बालों में इसका असर बना रहता है।
  • इसको कराने के बाद बाल आपस में कम उलझते हैं।
  • बालों लंबे समय तक मुलायम और सुलझे होने की वजह से कम टूटते हैं।

हेयर स्मूथिंग के नुकसान

इस ट्रीटमेंट को करने के फायदे तो हैं लेकिन कई सारे नुकसान भी होते हैं।

  • इसको करने बाल कमजोर हो जाते हैं , जिसके वजह से यह ट्रीटीमेंट कराने के बाद बोली का और अधिक ध्यान रखना पड़ता है।
  • बालों पर बहुत अधिक गरम और केमिकल का इस्तेमाल किया जाता है, जिससे बालों झड़ने का भी डर रहता है।
  • यह ट्रीटमेंट काफी मंहगा होता है।
  • बालों को हमेशा के लिए चमकदार और मुलायम नहीं बनाता है।
  • इसको एक बार कराने के बाद लंबे समय तक बाल एक ही स्टाइल में रहते हैं।
  • नये बाल आने के बाद दुबारा इसको करवाने की जरूरत पड़ने की जरूरत पड़ती है।
  • कई बार यह बालों के वॉल्यूम को कम कर देता है। जिससे बाल घने नहीं दिखते हैं।
  • केमिकल के प्रयोग से बाल पतले हो जाते हैं।  

बेस्ट हेयर स्मूदनिंग क्रीम

L’Oreal Paris Deep Nourishing Cream Bath Hair Spa For Dry Hair

हेयर स्मूथिंग ट्रीटमेंट  एट होम
  • 490 g
  • ₹530
  • ऑर्गैनिक क्रीम

हेयर स्मूथिंग क्रीम में प्रयोग होने वाली सामान्य सामग्री 

वैसे तो हेयर स्मूथिंग ट्रीटमेंट करने के लिए कई क्रीम का इस्तेमाल किया जाता है।और आजकल बाजर में भी बहुत कंपनियों की क्रीम आ रही है। इन क्रीमस् को बनाने के लिए कई तरह की सामग्री इस्तेमाल की जाती हैं।

जैसे की कुछ तत्वों का उपयोग क्रीम के संरक्षक के रूप में इस्तेमाल किया जाता है। क्रीम के आधार के रूप में किया जाता है। क्रीम को खुशबूदार बनाने के लिए कुछ खुशबू वाले रसायन का भी इस्तेमाल किया जाता है।

चलिए देखते हैं की किस तरह की सामग्री का इस्तेमाल किया जाता है। और इनका हमारे बालों पर किस तरह का प्रभाव पड़ता है।

हेयर स्मूथिंग क्रीम में प्रयोग सामान्य सामग्री

  • पानी
    पानी का उपयोग उत्पादों में सभी अवयवों को अच्छी तरह से घुलनशील बनाने के लिए किया जाता है। जिससे सारे तत्व आपस में अच्छे से घुल जाते हैं। और क्रीम में नमी भी बनी रहती है।
  • सेटेआर्यल
    अल्कोहल
    इसका प्रयोग क्रीम में क्रीम को मुलायम बनाने, क्रीम को गाढ़ा बनाने जिससे की यह त्वचा में अच्छे से घुल जाए, और क्रीम को अधिक घुलनशील (यानि की क्रीम को लगाते समय क्रीम आसानी से फैल जाए) बनाने के लिए किया जाता है।
  • बेहेनट्रिमोनियम क्लोराइड
    यह उत्पाद में संरक्षक के रूप में किया जाता है। यानि उत्पाद को को लंबे समय तक किटाणुओं से खराब होने से बचाता है।
  • एमोडिमेथिकोन
    इसके अंदर को ठंडा और मुलायम करने का गुण होता है। यह जलन को कम करके ठंडा और शांत करने का काम करता है।
  • फेनोक्सीथेनॉल
    यह भी एक संरक्षक है। जो की उत्पादों को लंबे समय तक सुरक्षित रखता है।
  • क्लोरहेक्सिडिन डाइहाइड्रोक्लोराइड
    यह एक किटाणु और जीवाणु नाशक के रूप में काम करता है।
  • बेंज़िल सैलिसिलेट
    यह उत्पाद में खुशबू लाने के लिए इस्तेमाल किया जाता है।
  • बेंज़िल अल्कोहल
    यह उत्पादों में सामान्य रूप से विलायक के रूप में किया जाता है।
  •  खुशबू
    उत्पादों में खुशबू के लिए कई तरह के केमिकल इस्तेमाल किए जाता हैं। जैसे Methyl propionate Methyl propanoate, linalool, ethanol।


सम्बंधित प्रश्न

हेयर स्मूथिंग में कितना टाइम लगता है?

हेयर स्मूथिंग करने में 3 से 4 घंटे तक का समय लग जाता है। क्योंकि इसमें सबसे पहले बालाें पर शैम्पू लगाया जाता है। फिर फॉर्मेलडिहाइड सॉल्यूशन लगाया जाता है। फिर इसके बाद इसको सूखने के लिए छोड़ दिया जाता है। बाद में हीटिंग आयरन से सीधा (स्ट्रेट) किया जाता है। जिससे बाल सीधे हो जाते हैं। इन सब में काफी समय लगता है। इस ट्रीटमेंट को करने के बाद 3,4 दिन तक बालों को पानी या शैम्पू से नहीं धुलना चाहिए।

स्मूथिंग हेयर की केयर कैसे करे?

हेयर स्मूथिंग कराने के बाद बाल काफी ज्यादा नाजुक और कमजोर हो जाते है। इसलिए बालों का बहुत अधिक ध्यान रखने की जरूरत होती है। इसलिए कुछ बातों का ध्यान रखकर बालों का ध्यान रखा जा सकता है ।
1. कुछ दिन तक बालों को खूब रगड़ कर ना धुलें।
2. सिर की त्वचा को ज्यादा ना रगड़े।
3. बालों को प्रदूषण और गंदगी से बचाएं।
4. अच्छे शैम्पू का इस्तेमाल करें।
5. बाहर निकलने से पहले बालों को ढक लें ताकि धूल-मिट्टी ना पड़े बालों में।

केराटिन ट्रीटमेंट क्या है?

केराटिन बालों के लिए बहुत जरूरी है। इस ट्रीटमेंट में बालों पर प्रोटीन की परत चढ़ाई जाती है, जिसे प्रेसिंग द्वारा पूरी तरह बालों के अंदर लॉक किया जाता है। उसके बाद 180 डिग्री तापमान पर बालों की प्रेसिंग की जाती और फिर 24 घंटे बाद बालों को सादे पानी से साफ किया जाता है। केराटिन ट्रीटमेंट बहुत ही महँगा होता है।

रिबॉन्डिंग कैसे किया जाता है?

रिबॉन्डिंग में घुँघराले और रूखे बालों को केमिकल की मदद से सीधा किया जाता है। जिसमे कम से कम 4 से 5 घंटे का समय लगता है। यह एक्सपर्ट की निगरानी में किया जाता है।

 आखरी शब्द

बालों को सुंदर और मुलायम दिखाने की चाह में आजलक हेयर स्मूथिंग ट्रीटमेंट का प्रचालन खूब जोरो-सोरो से बढ़ रहा है। जिन लोगों नहीं भी पता है की यह ट्रीटमेंट क्या होता है, वो लोग भो बस बाल मुलायम और सीधे हो जाएँगे ये सुन कर, करवा रहे हैं।

मेरी राय में तो यदि आपके बाल प्राकृतिक रूप से सिल्की और मुलायम हैं तो आपको इसको करवाने की कोई जरूरत नहीं है। क्योंकि इसके जीतने फायदे हैं उससे कहीं ज्यादा नुकसान भी है। और खासबात की हेयर स्मूथिंग प्राइस बहुत ही अधिक होता है।

इसको करने के कुछ समय तक तो आपके बाल खूबसूरत दिखेंगे लेकिन बाद में बाल पहले जैसे ही हो जाते है। और केमिकल की वजह से बालों को नुकसान पहुँचने का खतरा रहता है वो अलग। इससे अच्छा आप प्राकृतिक चीजों के इस्तेमाल से अपने बालों को मुलायम बना सकते हैं।

इस पोस्ट के माध्यम से मैंने आपको इस ट्रीटमेंट के बारे में सारी जानकारी देने की कोशिश की है जो आपके लिए उपयोगी है। इसको पढ़ने के बाद आप आसानी से फैसला कर लेंगे की आपको यह ट्रीटमेंट करवाना है या नहीं। यदि आप यह ट्रीटमेंट करवाते हैं तो अपना अनुभव मुझे जरूर बताएं। और इस पोस्ट से संबंधित कोई सवाल हो तो वो भी आप बता सकते हैं।

Leave a Comment