Site icon skincaremedication

गर्मियों में कौन सी क्रीम लगाएं| जिससे चेहरे गोरा दिखे|

गर्मियों में कौन सी क्रीम लगाएं

गर्मियाँ  शुरू होते ही हम अपनी त्वचा को लेकर परेशान हो जाते हैं क्योंकि गर्मी का मौसम अपने साथ तेज धूप, पसीना, चिपचिपाहट, नमी, और कई सारी परेशानियों को लेकर आता है। 

गर्मी के मौसम मे तेज धूप की वजह से त्वचा पर चकत्ते (rash), धुप से त्वचा का रंग का गहरा होना, धूप से जलन (sunburn) और कील-मुहासे, दाने  निकल आते हैं। इससे बचने के लिए गर्मी मे क्रीम लगाना बहुत जरूरी है जिससे त्वचा नरम रहती है, रूखी सुखी नहीं होती और धूप से होने वाले नुकसान से बची रहती हैं। 

बाजार मे त्वचा को गर्मी से होने वाले नुकसान से बचाने के लिए बहुत सी क्रीम उपलब्ध है। लेकिन इनका कुछ खास असर नहीं दिखता है। इसका सबसे बड़ा कारण है की हम अपनी त्वचा के लिए सही क्रीम का चयन नहीं कर पाते हैं। 

आज इस लेख के माध्यम से हम आपको बताएंगे की गर्मियों में स्किन केयर कैसे करें तथा गर्मियों में कौन सी क्रीम लगाएं जिससे की त्वचा धूप से होने वाली बीमारियों से बची रहे। 

तो आईये इसको विस्तार से समझते हैं। 


चेहरे पर गर्मी का क्या असर होता है?

गर्मी मे धूप का सबसे सीधा असर चेहरे पर ही पड़ता है क्योंकि चेहरे की त्वचा अधिक नरम और संवेदनशील होती है।

  • तेज धूप और अत्यधिक पसीने की वजह से चेहरे की त्वचा के त्वचा की ग्रन्थि (sebaceous gland), अधिक प्राकृतिक तेल (sebum) निकालना शुरू कर देती है।
  • ये तेल त्वचा की ऊपरी सतह पर जमा हो जाता है। जिससे त्वचा चिपचिपी हो जाती है और रोमछिद्र बंद हो जाते हैं। इससे त्वचा पर कील-मुहासे निकलने लगते हैं।  
  • धूप के खतरनाक पराबैंगनी किरणों (ultra violet rays) के नुकसान से  बचने के लिए त्वचा अधिक मेलानिन बनाना शुरू कर देती है। अधिक मेलानिन के वजह से त्वचा का रंग गहरा (काला) दिखने लगता है। 
  • कभी-कभी ज्यादा धूप लगने से त्वचा जल सी जाती है (sunburn), रूखापन, और त्वचा की नमी चली जाती है। इसलिए गर्मी मे घर से  बाहर निकलने से पहले sunscreen लगाना या चेहरे को अच्छी तरह ढक लेना चाहिए। 

 गर्मियों में चेहरे की देखभाल कैसे करें?

हमने देखा की गर्मी का हमारे चेहरे पर कितना बुरा असर होता है। इसलिए गर्मियों मे चेहरे की अच्छे से  देखभाल करना बहुत ज्यादा जरूरी हो जाता है। हम कुछ बातों का ध्यान रखकर तथा घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल करके अपने चेहरे की देखभाल कई तरीके से कर सकते हैं। 

तो आईये जानते हैं की गर्मियों में स्किन केयर कैसे करें?

फेसवास का इस्तेमाल करें

गर्मी मे त्वचा अधिक तेल छोड़ती है जिसकी वजह से त्वचा के छिद्र बंद हो जाते। इससे बचने के लिए बहुत जरूरी है की आप अपने चेहरे को अपने त्वचा के अनुकूल फेसवास से धुलें। 

फेसवास त्वचा की धूल और गंदगी को को गहराई से साफ करता है। इसलिए सौम्य, शराब मुक्त और पीएच संतुलित फेसवास से अपने चेहरे को दिन में २ बार ज़रूर धुलें। साथ ही अगर आप कही बहार जाते हैं, तो घर लौट के सबसे पहले अपना चेहरा साफ़ करें।

पानी अधिक पियें

त्वचा को खूबसूरत रखने के लिए दिन मे 7 से 8 ग्लास पानी पीना चाहिए। इससे पेट साफ रहता है और त्वचा मे नमी बनी रहती है।

इसके अलावा गर्मी के मौसम में अधिक पानी वाले फल खाएं। जैसे- खीरा ,नासपाती, तरबूज आदि में भरपूर मात्रा में खनिज व मिनरल पायें जाते हैं। 

सनस्क्रीन का इस्तेमाल करे

सूरज की पराबैंगनी – ए (ultraviolet -A ) और पराबैंगनी– बी (ultraviolet – B) किरणों से बचने के लिए सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए। ये क्रीम सूरज की किरणों से होने वाले दुष्प्रभाव से त्वचा की सुरक्षा करती हैं। 

इसलिए जब भी घर से बाहर जाएं तो 30-50 spf वाली सनस्क्रीन लगाकर बाहर निकले। लेकिन एक बात का ध्यान रखें की घर से निकलने के 15-20 मिनट पहले ही क्रीम लगा ले जिससे की क्रीम को आपकी त्वचा पे असर दिखाने के लिए समय मिल जाये, तुरंत लगा कर बाहर ना निकले। 

धूप में जाने से पहले त्वचा को ढकें

धूप से त्वचा को बचाने के लिए बाहर जाने से पहले किसी कपड़े से अपना चेहरा ढक कर बाहर निकलें। इससे सूरज से आने वाली हानिकारक किरणे हमारी त्वचा पर तुरंत नहीं पड़ती और नुकसान से बचतीं हैं। 

भारी मेकअप करने से बचे

गर्मी के मौसम में आमतौर पर ही त्वचा नाजुक हो जाती है ऐसे मे इसपर बहुत सारा फाउन्डेशन और अन्य शृंगार (cosmetics) की चीजों का इस्तेमाल करने से त्वचा को नुकसान पहुच सकता है। इसलिए गर्मी मे केवल मॉइस्चराइजर लगाएं । 

एलोवेरा जेल का इस्तेमाल करें

एलोवेरा त्वचा के लिए बहुत ही कारगर है। इसमे विटामिन ए, सी, ई, फॉलिक एसिड, कोलीन, विटामिन बी1, बी2, बी3 और बी6, बी12, और अन्य मिनिरल्स पाए जाते हैं। ये हमारी त्वचा को खराब होने से बचाती है, उसे ठंडा रखती है तथा चेहरे की रंगत को निखारती है। इसलिए आप एलोवेरा का जेल निकाल कर उसको अपने चेहरे पर लगाए। अगर आपके घर में घृतकुमारी नहीं है तो आपऑनलाइन या किसी दूकान से एलोवेरा जेल खरीद भी सकते हैं।

 

गर्मियों में इस्तेमाल होने वाली क्रीम के मुख्य सामाग्री – फायदे और नुक्सान

गर्मी आते ही बहुत सारी कॉम्पनियों की क्रीम बाजार मे मिलने लगती है जोकी दावा करती हैं की ये हमारी त्वचा को नुकसान से बचाती है। और हम इन पर भरोसा करके  इसका इस्तेमाल करने लगते हैं। 

क्या आप जानते हैं की इन क्रीमस् मे इस्तेमाल की जाने वाली सामग्री आपकी त्वचा के लिए लाभदायक है या हानिकारक? 

तो आईये आमतौर पर बाजार मे मिलने वाली कुछ क्रीमस् मे इस्तेमाल होने वाली सामग्री और उसके फायदे और नुकसान के बारे मे जानते है। 

क्रीम मे इस्तेमाल होने वाली मुख्य सामाग्री

आमतौर पर बाजार मे मिलने वाली सभी क्रीम मे पैराबेन (paraben), मिनरल आयल (mineral oil), ग्लीसरीन (glycerine), सोडीअम (sodium), सल्फैट (sulphate), हाइड्रोआक्साइड (hydroxide), TBHQ (खूशबू के लिए) आदि का इस्तेमाल करके बनते हैं। इसमे से कुछ हमारे त्वचा को फायदा देती है लेकिन कुछ हानिकारक भी होती हैं। जैसे-

पैराबेन

 यह एक तरह का रसायन होता है, इसका इस्तेमाल लगभग सारी क्रीम मे किया जाता है। प्रसाधन क्रीम मे बहुत तरह के रसायन इस्तेमाल होते है। पाराबिन का इस्तेमाल इन रसायनों मे जीवाणु से सुरक्षा प्रदान करके लंबे समय तक बचाये रखने के लिए किया जाता है। 

फायदे

  • यह क्रीम को जीवाणु से खराब होने से बचाता है। 
  • इसके इस्तेमाल से क्रीम को लंबे समय तक इस्तेमाल कर सकते हैं।  

नुकसान

  • इसके इस्तेमाल से त्वचा रूखी होती है। 
  • पाराबिन का अधिक प्रयोग से त्वचा जल्दी बूढ़ी हो जाती है।
  • कई बार पाया गया है की पाराबिन के इस्तेमाल से त्वचा में कैंसर जैसे रोग भी उत्पन्न हो जाते हैं।  

मिनरल ऑइल

यह एक तरह का पदार्थ होता है। यह एक क्रीमबेस की तरह इस्तेमाल होता है। मिनरल ऑइल कच्चे पेट्रोलियम तेल से तैयार किए गए रासायनिक पदार्थ होते हैं। इसका इस्तेमाल किसी क्रीम को चिपचिपा मुक्त बनाने मे किया जाता है।

फायदे

  •  त्वचा की नमी को बनाये रखता है। 
  •  क्रीम को चिपचिपा नहीं करता।

नुकसान

  • वैसे तो इसका कोई नुकसान नहीं है लेकिन जिसको इससे तीव्र प्रतिक्रिया (allergy) होती है जैसे त्वचा मे जलन, और खुजली हो सकती है।   

ग्लीसरीन

 यह एक रंगहीन, गंधहीन, चिपचिपा तरल पदार्थ है। इसमे humectant नामक मॉइस्चराइजिंग गुण होता है जिससे यह त्वचा की ऊपरी परत मे नमी को बनाए रखता है। इसलिए इसका इस्तेमाल कई तरह क्रीम को बनाने के लिए किया जाता है।

फायदे

  • त्वचा को मुलायम बनती है। 
  • त्वचा की रंगत निखारकर उसे गोरा बनती है। 
  • इसके इस्तेमाल से त्वचा बूढ़ी नहीं होती है। 
  • त्वचा के रोमछिद्रों को खोलने तथा त्वचा की कोशिका निर्माण मे सहायक होती है।  

नुकसान

  • इसके कोई नुकसान नहीं देखे गए हैं। लेकिन कुछ मामलों जैसे संवेदनशील त्वचा मे                     
  • इसके अधिक इस्तेमाल से कभी-कभी जलन, खुलजी आदि की समस्या हो सकती है। 

हयालूरॉनिक ऐसिड

Hyaluronic acid एक चीनी अणु है। यह त्वचा में प्राकृतिक रूप से मौजूद होता है। लेकिन उम्र बढ़ने के साथ साथ इसकी कमी होने लगती है। यह त्वचा मे प्राकृतिक रूप से नमी को बनाये रखता है। इससे त्वचा नम, चमकदार और खिली हुई दिखाई देती है। यह त्वचा की नमी के लिए बहुत आवश्यक होता है। इसलिए इसको सभी कॉस्मेटिक क्रीम बनाने मे इस्तेमाल किया जाता है।

फायदे

  • त्वचा की नमी को बनाकर रखता है। 
  • त्वचा को जल्दी बूढ़ी होने से बचाता है।
  • त्वचा की कोशिका का निर्माण करता है।

नुकसान

  •  इसको त्वचा मे पानी के साथ लगाना चाहिए, सुखी त्वचा मे इसका इस्तेमाल करने से त्वचा रूखी और बेजान हो जाती है।
  • अगर आपको स्क्लेरोडर्मा नामक त्वचा की समस्या है जिसमे त्वचा पथ्थर सी हो जाती है, तो हयालूरॉनिक ऐसिड का इस्तेमाल ना करें।                      

PABA

पैरा-एमिनोबेंजोइक एसिड (PABA), जिसे विटामिन B10 भी कहा जाता है। यह धूप से बचाने वाली क्रीम मे इस्तेमाल किया जाता है। क्योंकि इसमे सूरज से आने वाली किरणों को छानने की क्षमता होती है।

फायदे

  • यह धूप को फ़िल्टर करने का काम करता है।
  • त्वचा को धूप से बचाती है।  
  • इसे FDA द्वारा स्वीकृति मिली हुई है।

नुकसान

  •   इसके लगातार इस्तेमाल से त्वचा संवेदनशील हो जाती है। 
  • कोमल त्वचा को रूखा और बेजान बनाती है। 
  • वैसे तो यह त्वचा को UV किरणों से बचती है पर कुछ लोगो के लिए यह कारगर साबित नहीं होती।         

पेट्रोलियम

पेट्रोलियम जेली को पेट्रोलेटम (Petrolatum) भी कहा जाता है। यह खनिज तेलों और मोम का मिश्रण है, जो एक अर्ध-ठोस जेली जैसा पदार्थ बनाते हैं। यह त्वचा की घाव और कोशिका की मरम्मत करता है। 

फायदे

  • इससे त्वचा मुलायम और कोमल होती। 
  • त्वचा की नमी को बरकरार रखता है।

नुकसान

  •  हालांकि पेट्रोलिम को सुरक्षित माना जाता है त्वचा के लिए, लेकिन कई बार इसके तत्व हमारी त्वचा के रोमछिद्र को बंद कर देते है। इससे हमारी त्वचा साँस नहीं ले पाती।
  • इसके लंबे समय तक इस्तेमाल से कैंसर भी हो सकता है।        

  

आयुर्वेदिक क्रीम – क्या यह क्रीम सच में आयुर्वेदिक हैं?

 गर्मियों में त्वचा को धूप, धूल, से सुरक्षित रखने के लिए बाजार मे बहुत सी कॉम्पनियों की आयुर्वेदिक क्रीम भी मौजूद हैं। ये आयुर्वेदिक कॉम्पनिया दावा करती है की इनके क्रीम मे इस्तेमाल होने वाली सामग्री 100% आयुर्वेदिक है। 

आपके मन मे भी सवाल आता होगा की क्या यह सच मे पूरी तरह आयुर्वेदिक होती है?

जी नहीं” ये क्रीम पूरी तरह से आयुर्वेदिक नहीं होते। इसमे कुछ न कुछ रसायन का इस्तेमाल किया जाता है जो त्वचा के लिए हानिकारक होती है। लेकिन ये हानिकारक रसायन का नाम क्रीम के डिब्बे पर लिखा नहीं होता जिससे की हमें लगता है की ये क्रीम बस जड़ीबूटी से बनी है। 

आगर आप ध्यान से सामग्रियों को देखेंगे तो उसमे आपको ऐसे शब्द दिखाई देंगे – फ्रेग्रेन्स (fragrance), बेस (base), प्रेज़रवेटिव (preservative), अन्य सामग्री (other ingredients) ।

तो फिर गर्मियों में कौन सी क्रीम लगाएं?

हमने देखा की बाजार मे लगभग सारी कॉम्पनियाँ अपनी क्रीम मे पैराबेन, सिलिकॉन, पेट्रोलियम जैसे हानिकर रसायन का इस्तेमाल करती हैं। तो फिर गर्मियों में चेहरे पर कौन सी क्रीम लगानी चाहिए जो त्वचा को नुकसान ना पहुचाए?

अब सवाल आता है की क्या बाजार मे ऐसी कोई क्रीम नहीं आती जो पूरी तरह से आयुर्वेदिक हो? तो आईये मैं आपको बताती हूँ की चेहरे के लिए सबसे अच्छी क्रीम कौन सी है। और ये क्रीम पूरी तरह से आयुर्वेदिक और त्वचा के लिए सुरक्षित है।

 Bipha Ayurveda Red Sandalwood Cream

खूबियाँ

  • यामिनी लाल चंदन क्रीम एक आयुर्वेदिक क्रीम है। यह पूरी तरह से आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों से मिलकर बना हुआ है। इसमें किसी भी प्रकार का हानिकारक रसायन जैसे पैराबेन, सिलिकॉन, पेट्रोलियम का इस्तेमाल नहीं किया गया है। 
  • इसके नियमित उपयोग से त्वचा का सौंदर्य बढ़ता है तथा यह रूखी और बेजान त्वचा की कोशिकाओं की मरम्मत भी करता है।

कैसे प्रयोग करें : रात मे सोने से पहले चेहरा अच्छी तरह धुल ले, फिर पूरे त्वचा पर इस क्रीम को लगाकर सोएं।चेहरे के निशान, दोष और आंखों के नीचे के अंधेरे के नीचे भर देता है।

मूल्य :Bipha Ayurveda Red Sandalwood Cream की 75G का पैक 1,690 रुपये मे Amazon पर उपलब्ध है। 


सामग्री

यह लाल चंदन का तेल, शुद्ध (virgin) नारियल का तेल, जोजोबा तेल, बादाम का तेल, लैवेंडर का तेल, खस-खस का तेल, विटामिन ई, हल्दी का तेल, जेरेनियम का तेल लाल चंदन का तेल, इत्यादि जड़ीबूटियों के मिश्रण से बना है। 

 Soul Tree – RADIANCE FACE OIL WITH SAFFRON & TURMERIC

खूबियाँ

  • यह एक आयुर्वेदिक तेल है जिसका इस्तेमाल त्वचा की मालिश करने के लिए किया जाता है। 
  •  इसके इस्तेमाल से चेहरे की प्राकृतिक चमक बढ़ती है और त्वचा हाइड्रेशन (नम) रहती है।                         
  • यह तेल केसर और हल्दी की अच्छाइयों से भरा हुआ है। बादाम, जोजोबा और खुबानी के तेल से युक्त, यह त्वचा की चमक को बढ़ाता है और उम्र बढ़ने के शुरुआती लक्षणों को दूर करने में मदद करता है।
  • यह पैराबीन मुक्त, पेट्रोलियम मुक्त, सीसा मुक्त, रंग मुक्त, है। 

कैसे प्रयोग करें :  चेहरा अच्छे से धुलकर सूखा लें। तेल का 2-3 बंद अपने हथेली पर लें। 
अपने चेहरे पर हल्के हाथों से मालिश करें। रोज रात मे सोने से पहले इसका इस्तेमाल करे। 
 ज्यादा फायदा के लिए इसे नारियल या किसी और तेल मे मिलाकर कर इस्तेमाल करें। 



मूल्य : इस तेल का 10 ml का पैक Amazon पर 1200 रुपये मे उपलब्ध है।

सामग्री

बादाम तेल, जोजोबा बीज का तेल, अर्मेनियाका (खुबानी) पील ऑयल, सूरजम के बीज का तेल,(मंजिस्ता) का सत्त, हल्दी का सत्त, लाल चंदन का सत्त, केसर का तेल, आदि।

 Just herbs natural face massage cream

खूबियाँ

  • यह एक चेहरे को मालिश करने की क्रीम है। यह त्वचा की कोशिकाओं की मरम्मत करता है। 
  • इसके इस्तेमाल से त्वचा प्राकृतिक रूप से निखरती है। यह त्वचा के तनाव को काम करके उसको कोमल बनाता है। 
  • इसके नियमित उपयोग से त्वचा का सौंदर्य बढ़ता है तथा यह रूखी और बेजान त्वचा की कोशिकाओं की मरम्मत भी करता है।

कैसे प्रयोग करें : चेहरे को अच्छे से धुलें। अपनी हथेली पर लेकर पूरे चेहरे पर लगा लें। उंगलियों से धीरे धीरे हल्के हाथों से 5-6 मिनट मलेंपूरी रात छोड़ दें। ज्यादा फायदे के लिए रात को इस्तेमाल करें।


मूल्य :Amazon पर यह आपको 695 रुपये मे मिल जाएगी। 

सामग्री

तुलसी, विंटर(ठंडी) चेरी, नीम, हल्दी, मजीठ या पागल का पौधा  और सफेद चंदन का इस्तेमाल किया गया है। 

खूबियाँ

  • एंटी-ऑक्सीडेंट्स, एंटी-इंफ्लेमेटरी और एंटी-बैक्टीरियल गुणों से भरपूर, यह एकआयुर्वेदिक    
  • तेल है। इसके इस्तेमाल से त्वचा की सभी जिद्दी अशुद्धिया दूर होती है। 
  • कुमकुमदी शुद्ध केसर के साथ दुर्लभ तेलों और जड़ी-बूटियों का एक अनूठा मिश्रण है जो 
  • त्वचा को युवा, स्वस्थ और बेदाग दिखने में मदद करता है। काले धब्बे, रंजकता और दोषों को कम करता है।

कैसे प्रयोग करें : हमेशा की तरह चेहरा साफ करें तेल की 2-3 बूंद हथेली पर लेकर चेहरे पर मालिश करें । दिन मे इस्तेमाल कर रहे तो 2-3 घंटे बाद पानी चेहरा धूल लें। ज्यादा बढ़िया परिणामों के लिए रोज सुबह या रात में  प्रयोग करें।  इसको प्रयोग करने के बाद कम से कम 2  से 4  घंटे तक फेस वाश या साबुन का प्रयोग न करें


मूल्य : यह 100 मिलीलीटर की बोतल में आता है जो आपको 349 रुपये मे amazon पर मिल जाएगा।

सामग्री

केसर, मंजिष्ठ, पदमका, मुलेठी,तिल का तेल, बकरी का धूध, गुलाबजल, दारूहल्दी, चंदन, आदि का इस्तेमाल किया गया है।

सम्बंधित प्रश्न

गर्मी में चेहरे पर कौन सी क्रीम लगानी चाहिए? गर्मियों में कौन सी क्रीम लगाएं ?

गर्मी मे चेहरे पर  Bipha Ayurveda Red Sandalwood Cream का इस्तेमाल कर सकते है। यह चेहरे की त्वचा को धूप से होने वाले नुकसान से बचाती है।  
इसके अलावा आप एलोवेरा जेल भी लगा सकते हैं। थोड़ा सा एलोवेरा जेल निकालकर उसमें शहद मिलाकर लगाएं। गर्मी में चेहरा चमक उठेगा।

धूप में कौन सी क्रीम लगानी चाहिए?

धूप मे आयुर्वेदिक सनस्क्रीन का इस्तेमाल करना चाहिए। गर्मियों के लिए ऐसी क्रीम का चुनाव करें जिसमें spf 40 हो। ये सूरज से निकालने वाली किरणों से त्वचा को बचाती है। 
गर्मी में क्रीम का चुनाव करते समय ध्यान रखें की क्रीम ज्यादा तैलीय ना हो। क्यूंकी इस समय गर्मी से हमारी त्वचा अधिक पसीना छोड़ती है। और इसी में आप तैलीय क्रीम लगा देंगे तो त्वचा के रोमछिद्र बंद हो जायेंगे। जो की त्वचा के लिए हानिकर साबित होता है। 

गर्मी के दिनों में चेहरे पर क्या लगाना चाहिए?

गर्मी के दिनों मे चेहरे पर एलोवेरा जेल,नींबू ,गुलाबजल  लगाए। इसके अलावा बेसन और गुलाबजल से बने फेसपैक का इस्तेमाल करें। यह त्वचा मे नमी बनाये रखती है। इस दिनों चेहरा रूखा भी हो जाता है तो ड्राई स्किन के लिए कौन सी क्रीम लगाएं ये भी सवाल मन में आता है। तो आप इन घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसके अलावा आप चेहरे पर बर्फ का टुकड़ा लेकर रगड़े। ऐसा करने से त्वचा ठंडी रहती है। थोड़ा सा  गुलाब जल,उसमे एलोवेरा जेल और पानी मिलाकर फ्रिज में जमने के लिए रख दे जब बर्फ बन जाए तो लेकर चेहरे पर मलें। 

फेस के लिए सबसे अच्छी क्रीम कौन सी होती है?

 Just herbs natural face massage cream चेहरे के लिए सबसे अच्छी और सुरक्षित क्रीम है।इसमे किसी भी तरह के हानिकारक तत्व का इस्तेमाल नहीं किया गया है। बाजार में मिलने वाली क्रीम के अलावा आप घरलु नुस्खों का इस्तेमाल से बनी क्रीम भी लगा सकती है। जैसे ग्लिसरीन,एलोवेरा जेल और थोड़ा सा नारियल का तेल डालकर क्रीम बना लें और फिर चेहरे पर लगाये।

सम्बंधित लेख

आखरी शब्द

गर्मियों मे त्वचा और चेहरे की सुरक्षा सबसे ज्यादा जरूरी होता है। तेज धूप की वजह से हमारी त्वचा रूखी और बेजान हो जाती है। इसलिए हमें गर्मियों मे अच्छी और आयुर्वेदिक क्रीम का इस्तेमाल करना चाहिए। 

लेकिन बाजार मे अधिकतर कॉम्पनीय क्रीम मे हानिकारक तत्वों का इस्तेमाल करती है और हम गर्मियों में चेहरे पर क्या लगाना चाहिए इसके लिए परेशान होते हैं और समझ नहीं पाते की गर्मियों में कौन सी क्रीम लगाएं। इसलिए किसी भी क्रीम का इस्तेमाल करने से पहले आप उसकमे इस्तेमाल होने वाली सामग्री की जाँच अवश्य करें। 

हमने इस पोस्ट मे कुछ आयुर्वेदिक क्रीम के बारे मे बताया है जो की पूरी तरह से सुरक्षित है। आप इस क्रीम का इस्तेमाल कर सकते है। 

 उम्मीद है आपको जानकारी अच्छी लगी है। यदि हमारे द्वारा बताए गए क्रीम या संबंधित जानकारी के बारे मे कोई सवाल हो या कोई सुझाव देना हो तो आप बेझिझक हमे कमेन्ट करके बताए। 

Exit mobile version